शिक्षा से सम्बंधित ख़बरों के लिए ज्वाइन करें Rojgar Samachar Live Join Now !!

( PDF ) कोलाज बनाना | कला शिक्षा का लेसन प्लान | Kala Shiksha Lesson Plan

विद्यालय का नाम -


कक्षा - 5           वर्ग -           कालांश


दिनांक -            वार -          विषय - कला शिक्षा


प्रकरण - रंगीन कागज से कोलाज बनाना समय -

 

Kolaj lesson plan , lesson plan , hindi lesson plan

पाठ विश्लेषण :-

  1. इस पाठ से छात्र कोलाज बनाने की विधि से परिचित होंगे ।

  2. इस अध्याय में कोलाज के उपयोग के बारे में बताया गया है ।

  3. छात्र कोलाज से संबंधित जानकारी का उपयोग कोलाज बनाने में कर सकेंगे ।

सामान्य उद्देश्य :-

  1. विद्यार्थी कोलाज बनाने की विधि की जानकारी प्राप्त कर सकेंगे ।

  2. विद्यार्थी कोलाज बनाने की क्रिया का प्रत्यास्मरण कर सकेंगे ।

  3. विधार्थियों मैं कोलाज निर्माण की विधिवत प्रक्रिया का अवबोध कराना । 

  4. छात्रों में कल्पना शक्ति का विकास करना ।

  5. विद्यार्थी कोलाज बनाने की क्रिया संबंधी ज्ञान का उपयोग दैनिक जीवन में कर सकेंगे ।

  6. विद्यार्थी कोलाज बनाने की क्रिया को रुचि एवं निपुणता प्राप्त कर सकेंगे ।

 विशिष्ट उद्देश्य :-

  1. विद्यार्थियों को रंगीन कागज की सहायता से कोलाज निर्माण करने का ज्ञान प्रदान करना ।

  2. विद्यार्थियों को  के माध्यम से अपने सर्जनशीलता को विकसित करना ।

  3. विद्यार्थी कोलाज के माध्यम से अपने घर में साज सज्जा कर सके ।


सामान्य सहायक शिक्षण सामग्री :– 

  1. श्वेत वर्तिका 

  2. लपेट फलक 

  3. चित्र 

  4. चार्ट्स 

  5. संकेतक

  6. अन्य कक्षा कक्ष शिक्षण में उपयोगी सहायक सामग्री ।

 

अनुदेशात्मक सामग्री :– विषय से संबंधित चार्ट

पूर्व ज्ञान परीक्षण :– छात्र अध्यापक विद्यार्थियों के पूर्व ज्ञान हेतु निम्नलिखित प्रश्न पूछेंगी |

छात्राध्यापक क्रिया

छात्र क्रिया

1. बच्चों ! श्राद्ध पक्ष में लड़कियां अपने घर के बाहर दीवार पर क्या बनाते हैं ?

सांझी

2. पुराने कपड़ों की कतरनो की सिलाई करके महिलाएं चारपाई पर बिछाने के लिए कौन सी चीज बनाती है ?

रंगीन गुदड़ी

3. इस प्रकार रंगीन कागज और रंगीन कपड़ा, रेत, लकड़ी का बुरादा, सूखी पत्तियां, अखबार के कागज आदि को अपनी कल्पना से काटकर किसी गद्दे पर चिपकाने से बनी आकृति को क्या कहते हैं ?

कोलाज

4. आप कोलाज बनाने के बारे में क्या जानते हैं ? 

समस्यात्मक प्रश्न

 

उद्देश्य कथन :– 

अच्छा बच्चों ! आज हम रंगीन कागज से कोलाज बनाना सीखेंगे ।

प्रस्तुतीकरण :– 

छात्र अध्यापक व्याख्यान विधि व चार्ट के माध्यम से कक्षा में अपना पाठ प्रस्तुत करेंगी ।

शिक्षण बिंदु

छात्र अध्यापक क्रियाएं

छात्र क्रियाएं

मूल्यांकन


1. रेखा चित्र बनाना

छात्राध्यापक कक्षा में चित्र दिखाते हुए 

विकासात्मक प्रश्न :-

1. इस चित्र में आप क्या देख रहे हैं ?

2. कागज पर यह आकृतियां कैसे बनाई जाएगी?

3. बिना पेन और पेंसिल का इस्तेमाल किए कागज के टुकड़ों को जोड़कर कैसे आकृति बनाई जाती है ?

छात्राध्यापक कथन :-

इन आकृतियों को बनाने के लिए हम रंगीन कागज लेते हैं ईश्वर पेंसिल की सहायता से रेखा चित्र बनाने से पहले रंगीन कागज कोरा रहता है ।

छात्र ध्यानपूर्वक सुनेंगे व छात्र अध्यापक के प्रश्नों का उत्तर देंगे ।

टावर वृक्ष आदि


पेन और पेंसिल से


समस्यात्मक


छात्र ध्यानपूर्वक सुनेंगे व समझेंगे ।


1. आकृतियां बनाने के लिए हम क्या काम में लेते हैं ?

उत्तर - रंगीन

2. रेखा चित्र किससे बनाते हैं ?

उत्तर - पेंसिल से

पेड़ और तने का रंगीन कोलाज

विकासात्मक प्रश्न :-

1. पेड़ का रंग कैसा होता है ?

2. तने का रंग कैसा होता है ?

3. फूलों का रंग कैसा होता है ?

4. पेड़ का कोलाज बनाने के लिए किस चीज की जरूरत होगी ?

5. पेड़ की आकृति को आप कैसे बनाओगे ?

छात्र ध्यानपूर्वक सुनेंगे व समझेंगे ।हरा

भूरा

लाल, पीला

रंगीन कागज, पेंसिल, गोंद,

समस्यात्मक



छात्राध्यापक कथन :-

पेड़ का प्राकृतिक रंग हरा होता है । तने के ऊपरी भाग को हरे रंग से प्रदर्शित किया जाना चाहिए जिसमें पत्तियां होती है और पेड़ का तना भूरे रंग का होता है इसलिए उसे भूरे रंग के कागज से दिखाना चाहिए । इसके लिए सबसे पहले पेंसिल से तने कि आकृति को बनाकर और पेड़ के ऊपर से पतियों की आकृति को बनाकर कैंची की सहायता से काटना होता है उसके बाद पीले या लाल रंग के कागज से छोटे-छोटे टुकड़े काटकर उस कॉलेज कोलाज के ऊपर चिपकाने चाहिए जिससे वह फूलों की तरह प्रदर्शित हो सके। जब हम इसे तैयार करते हैं तो उसमें वास्तविकता की झलक दिखनी चाहिए ।


छात्र ध्यानपूर्वक सुनेंगे व अपनी अभ्यास पुस्तिका में लिखेंगे ।


1. पेड़ों का प्राकृतिक रंग कैसा होता है ?


2. तने को किस रंग के कागज से बनाना चाहिए ?


3. फूलों के लिए किस रंग के कागज की आवश्यकता होती है ?

 

पुनरावृत्ति :–

  1. कोलाज किसे कहते है ?

  2. कोलाज बनाने के लिए किन-किन चीजों की आवश्यकता होती है ?

  3. कॉलेज किस किस प्रकार के बनाए जाते हैं ?

 

गृहकार्य :–

  1. कागज की सहायता से अपने घर का कोलाज बनाइए ?

  2. कपड़े की छोटी-छोटी कतरनों की सहायता से एक कोलाज बनाइए ?



❖ यह भी देखें ヅ

1. कोलाज बनाना सीखें ( कला शिक्षा का लेसन प्लान )

2. खेल- खेल में भाग ( गणित लेसन प्लान )

3. संख्याएं कक्षा 2 के लिए ( गणित लेसन प्लान )

4. रंगोली पाठ योजना ( कला शिक्षा का लेसन प्लान )

5. झांसी की रानी पाठ योजना ( हिंदी पाठ योजना )

6. क्रिया ( हिंदी पाठ योजना )

7. प्रदूषण के दुष्प्रभाव ( पर्यावरण पाठ योजना )

8. प्रत्यय ( हिंदी पाठ योजना )

9. उपसर्ग ( हिंदी पाठ योजना )

10. अपना देश ( हिंदी पाठ योजना )

11. मैं सड़क हूं ( हिंदी पाठ योजना )

12. खेलों का महत्व ( हिंदी पाठ योजना )

13. संज्ञा ( हिंदी पाठ योजना )

14. जागो आया समय सुबह का ( हिंदी पाठ योजना )

15. A Thirsty Crow ( English Lesson Plan )

16. वचन पाठ योजना ( हिंदी पाठ योजना )

17. संख्याएं ( गणित लेसन प्लान )

18. पर्यावरण विषय के लिए चार्ट

19. क्रियात्मक अनुसंधान डायरी

कला शिक्षा Hindi Lesson Plan Pdf Download

कला शिक्षा के कोलॉज नामक इकाई का lesson plan sample सूक्ष्म शिक्षण पाठ योजना की pdf download करने के लिए link जल्द ही उपलब्ध करवाई जाएगी ।

कला शिक्षा Hindi Lesson Plan के बारे में -

कोलॉज कला शिक्षा का हिंदी विषय में Lesson plan को सर्च कर रहे विद्यार्थियों के लिए यह उपयोगी साबित होगा । इस Lesson plan को बनाने का एकमात्र उद्देश्य यह है कि विद्यार्थियों को कला शिक्षा में lesson plan का Sample प्रदान करना जिससे छात्राध्यापक जान सके कि लेसन प्लान कैसे बनाया जाता है ? इसके बारे में एक उदाहरण प्रस्तुत करना बाकी आप इसमें दिनांक , कक्षा , विद्यालय... वह आप अपने हिसाब से बदल सकते हैं और आप चाहे कोई अन्य भी अन्य टॉपिक पर लेसन प्लान बनाए लेकिन कोशिश कीजिए कि लेसन प्लान का फॉर्मेट यही रहे ।

लेसन प्लान क्यों जरूरी है ?

जब आप शिक्षण से संबंधित कोई भी कोर्स D.El.Ed , B.EL.ED. , B.P.ED. , DPE , B.ED. आदि करते हो तो पूरे सत्र के दौरान आपको Lesson plan बनाने पर खास ध्यान दिया जाता है क्योंकि Lesson plan कक्षा शिक्षण प्रक्रिया का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है कक्षा शिक्षण से पूर्व की तैयारी का विषय है , एक अच्छे लेसन प्लान के प्रयोग से कक्षा शिक्षण की प्रक्रिया को गुणवत्तापूर्ण बनाया जा सकता है। इसमें पाठ पढ़ाने से पहले शिक्षक द्वारा यह तय किया जाता है कि वह कक्षा में किस शिक्षण विधि का प्रयोग करेगा तथा कौन सी शिक्षण विधि इस पाठ के लिए उपयोगी है और पाठ से पाठ्यपुस्तक के अलावा कौन सी जानकारी है जो उस पाठ से संबंधित है तो उसे भी शामिल किया जाता है जिससे विद्यार्थियों को नवीन ज्ञान को प्राप्ति होती है।

पाठ योजना क्यों तैयार करें ? संक्षिप्त में

1. प्रभावी शिक्षण के लिए एक सुसंगत ढांचा तैयार करना जिसे पढ़ाने से पूर्व एक तैयारी के रूप में लिया जा सकता है।
2. इससे शिक्षण को एक व्यवस्थित रूप प्रदान किया जाता है।
3. यह शिक्षण को प्रभावी ढंग से करवाने हेतु उपयोगी है।
4. इसके प्रयोग से कक्षा शिक्षण से पूर्व उपयुक्त शिक्षण विधि का चयन किया जा सकता है।
5. यह सिलेबस पाठयक्रम को व्यवस्थित रूप देता है, इसके उपयोग से शिक्षण नियत अवधि में पूर्ण हो जाता है।
6. पाठ पढ़ाते समय शिक्षक में आत्मविश्वास का संचार करता है।
7. भविष्य की योजना तैयार करने में उपयोगी आधार प्रदान करता है।
8. कक्षा में विद्यार्थियों की शारीरिक एवं मानसिक विभिन्नता को ध्यान में रखते हुए कैसे शिक्षण करवाया जाए इसके लिए सहायक है।
9. एक प्रमाण है कि शिक्षक ने पढ़ाने के लिए उचित औऱ पर्याप्त प्रयास किए हैं।

एक अच्छी पाठ योजना के चरण

1. पाठ विश्लेषण
2. सामान्य उद्देश्य
3. विशिष्ट उद्देश्य
4. सहायक सामग्री
5. अनुदेशात्मक सामग्री
6. शिक्षण विधि
7. पूर्व ज्ञान परीक्षण
8. उद्देश्य कथन
9. प्रस्तुतीकरण
10. श्यामपट्ट कार्य
11. मूल्यांकन
12. पुनरावृत्ति
13. गृहकार्य
Owner and founder of this Blog, I'm a Content Creater as well as a Student.

Post a Comment